Blouse Measurement for Designer Blouse

0

The most important thing in blouse cutting is to measure the blouse accurately. A slight mistake in the blouse measurement can cause complete loss of the blouse.

ब्लाउज कटिंग में सबसे महत्वपूर्ण बात ब्लाउज को सही तरीके से मापना है। ब्लाउज माप में थोड़ी सी गलती से ब्लाउज का पूरा नुकसान हो सकता है।

किसीभी पोशाख की सिलाई करते समय उस पोशाख का सही तरीकेसे और सावधानी पूर्वक माप लेना काफी महत्वपूर्ण होता है। उसी तरह Blouse Measurement यानी ब्लाउज का माप सही तरिके से लेना काफी महत्वपूर्ण होता है।

आज इस ब्लाउज का माप (Blouse Measurement) कैसे लिए जाते है इस बारेमे विस्तार से जानकारी हासिल करेंगे।

Precaution should be taken in Blouse Measurement- Blouse Cutting 

टेलरिंग व्यवसाय में किसीभी पोशाख के माप लेते समय काफी सावधानियाँ बरतनी चाहिए, कईबार अनुभवी से अनुभवी टेलर से भी माप लेते समय गलतिया होती है। माप लेना एक कला है जिसे सीखना सभी टेलरिंग सिखनेवाले स्री /पुरुषो को आना ही चाहिए।

ब्लाउज कि सिलाई करते समय ब्लाउज का अचूक माप लेना काफी महत्वपूर्ण होता है क्योकि, ब्लाउज का माप Blouse Measurement जरासा भी ज्यादा या कम हो गया तो ब्लाउज का पूरा कपडे का नुकसान होने की पूरी पूरी संभावना होती है।

क्योकि ब्लाउज के कपड़े के लम्बाई और चौड़ाई सिमीत होती है इसलिए ब्लाउज के माप लेते समय गलतिकी कोई गुंजाईश ही नहीं होती है। इसलिए ब्लाउज का माप लेते समय काफी सावधान रहना चाहिए।

General Guidelines for Taking Blouse Measurement 

ब्लाउज का माप लेने से पहले आपको कुछ जानकरी हासिल करनी चाहिये की ब्लाउज का माप लेनेके पहले किस तरह तयारी करनी चाहिए।

  1. जिस व्यक्ति को मापा जा रहा है, उसे सीधे, दोनों पैरों पर, लगभग 15 सेंटीमीटर दूर खड़े होना चाहिए।
  2. ब्लाऊज़ का माप लेते समय ढीला ब्लाउज़ ना पहने।
  3. जिस व्यक्ति का ब्लाउज लिया जारहा है उसने, फिटिंगवाला ब्लाउज पहनना चाहिए, ताकि माप योग्य और अचूक आये।
  4. किसीभी प्रकार के पोशाख का माप लेनेके के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है टेप।  “टेप” का चयन योग्य प्रकार से करे।
  5. Blouse Measurement करते समय एक पुराणी कहावत ध्यान में रखे , ” दो बार मापे ; एक बार काटे “
  6. माप लेने के लिए हमेशा माप देने वाले के दाई और खड़े होकर माप ले।
  7. माप लेते समय हमेशा माप फर्श के समांतर टेप को पकड़कर ले।
  8. माप लेते समय माप देने वाले व्यक्ति को हमेशा सहज रखे, कईबार माप देते समय व्यक्ति अपनी साँस अंदर खींचकर माप देते है, जिसकारण माप में गड़बड़ी हो सकती है।

Fabric requirement for Blouse Cutting and Design

ब्लाउज़ का माप लेने से पहले एक ब्लाउज़ को कितने लम्बाई और चौड़ाई का कपड़ा लगता है, ये जानना सबसे महत्वपूर्ण है।  निचे दिए गए चार्ट में आप छाती के माप के अनुसार कितने लम्बाई का कपड़ा ब्लाउज को लगेगा ये जान सकते है।

छाती (चेस्ट) का माप  ब्लाउज़ के कपड़े की लम्बाई 
३२ इंच  ७० सेंटी मीटर 
३४ इंच  ७५ सेंटी मीटर 
३६ इंच  ८० सेंटी मीटर 
३८ इंच  ८५ सेंटी मीटर 
४० इंच  ९० सेंटी मीटर 
इस चार्ट के अनुसार सिर्फ छाती के माप से ब्लाउज़ के लिए लगने वाले कपड़े की लम्बाई दीगयी है।  लेकिन बाजू की लम्बाई और ब्लाउज के लम्बाई के अनुसार ऊपर दिए गए माप से लगभग १० सेमि ज्याद लम्बा कपड़ा लेगेगा।

Blouse – Length
अपने कंधे की नोक से उस जगह तक मापें जहां आप अपनी चोली / ब्लाउज को समाप्त करना चाहते हैं। यह आमतौर पर आपके निचले बस्ट क्षेत्र के नीचे एक या दो इंच तक होता है।

 

ब्लाउज़ कटिंग की अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करे। 

Importance of Paper Patterns in Blouse Cutting-2020

Blouse Cutting and Blouse Designs Basics 2020

Methods of Taking Blouse Measurement-Blouse Cutting 

ब्लाउज की सिलाई करते समय ब्लाउज का माप लेने के लिए दो पद्धति का इस्तेमाल हम कर सकते है। लेकिन ये आपके अनुभव और कौशल पर निर्भरत होता है की आप कोनसी पद्धति से माप लेकर योग्य फिटिंग का ब्लाउज सिलाई क्र सकते है।

ब्लाउज का माप लेने के लिए दो पद्धति का अवलंब किया जाता है। 

  1. सीधे शरीर से ब्लाउज का माप लेना।  (Blouse Measurement taken from Body)
  2. पुराने ब्लाउज़ से माप लेना।  (Blouse Measurement taken from Old Blouse)

Blouse Measurement taken from Body

इस पद्धति में ब्लाउज का माप सीधे जसि व्यक्ति को ब्लाऊज सिलाना है उसके शरीर से लिया जाता है।  ये एक भरवसे मंद और सबसे आसान तरीका है।

इस पद्धति में blouse measurement में गड़बड़ी होने के काफी कम गुंजाईश होती है। क्योकि माप देना वाला व्यक्ति उसे कितना तंग और कितना ढीला माप चाहिए ये बता सकता है।

Blouse Measurement taken from Old Blouse 

इस पद्धति में ब्लाउज का माप पुराने ब्लाउज से लिया जाता है। ये एक पर्यायी माप लेने की पद्धत्ति है, क्योकि इस तरह के पद्धतिसे माप का अचूक लेना और तयार ब्लाउज़ अच्छे से फिटिंग में आना काफी कठिन होता है।

इस पद्धतिका अवलंब अनुभवी टेलर ही कर सकते है, लेकिन उनसे भी कईबार इस पद्धति  से माप लेने में चूक हो जाती है।

Blouse Measurement taken from Body

आज इस पोस्ट में हम Blouse Measurement form body के बारेमे विस्तार से जानकारी हासिल करेंगे।

Blouse-Measurement-for-Designer-Blouse
Blouse-Measurement-for-Designer-Blouse
१. ऊंचाई  ऊंचाई A पॉइंट से B पॉइंट तक 

ब्लाउज़ की ऊंचाई बैक साइड से (पीठ) ले। गले की शुरुवात से ब्लाउज की ऊंचाई जहाँ खत्म होंगी वहाँतक ब्लाउज़ की ऊंचाई ले।

ये ऊंचाई लेनेसे पहले ब्लाउज़ के शोल्डर का भाग (जॉइंट) ठिकसे कंधेपर है या नहीं ये जांच ले। अगर सबसे पहले शोल्डर को कंधेपर लेकर ब्लाउज़ कंबर के निचे खींचकर ही ब्लाउज की ऊंचाई ले। (ब्लाउज के फ्रंटकी ऊंचाई लेने की जरूरत नहीं है।)

२. शोल्डर का माप  शोल्डर का माप C पॉइंट से C पॉइंट तक 

का माप सिर्फ बंद गले के ब्लाउज़ के लिए ही लेना होता है। शोल्डर का माप ये कंधे के हड्डीसे दूसरे कंधे के हड्डी तक लेना होता है।

टू बाय टू यानी टिप टॉप ब्लाउज़ की सिलाई करते समय  लिए हुवे माप से १ इंच माप कम ही रखे या लिखे क्योकि टिप टॉप का ब्लाउज़ पहनने के बाद खींचा जा सकता है। शोल्डर का माप १ इंच कम लेनेबाद भी वो आसानी से फिट हो जाता है।

वही टेरीकॉट / पोलिस्टर / अस्तर / हैण्डलूम या जाड़े कपड़े से ब्लाउज सिलाते समय शोल्डर का माप १/२ इंच (आधा इंच) कम ही लेना चाहिए।

क्योकि ये कपड़े भी लगभग १/२ इंच (आधा इंच) खींचा जा सकता है।

३. छाती का माप  छाती यानी चेस्ट का माप लेते समय छातीके सबसे बड़े उभार से  गोल टेप लगाकर पुरे छाती का माप लेना चाहिए। विशेषरूपसे छाती का माप लेते समय व्यक्ति के अनुसार माप लेना चाइये।

उदाहरण : अगर किसीको ब्लाउज़ की फिटिंग टाइट रखनी है तो माप उसके फिटिंग के अनुसार लेना चाहिए।

अगर किसीको ब्लाउज की फिटिंग लूज चाहिए तो उसे लूज माप लेकर ही ब्लाउज़ का माप लेना चाहिए।

अगर कोई पहलीबार ब्लाउज का इस्तेमाल कर रहा है तो उसके लिए ब्लाउज का माप १ इंच लूज ही रखना चाहिए।

४. कमर का माप  जहाँपर ब्लाउज खत्म होता है वहाँपर जमीन से टेप समांतर रखकर पुरे कमर का  चाहिए। कमर माप किसीभी ब्लाउज़ प्रकार और किसीभी उम्र के लिए फिट ही लेना चाहिए।

क्योकि ब्लाउज़ अगर कमर में ब्लाउज़ ढीला रहा तो, काफी अल्ट्रेशन हो सकते है।

उदाहरण : हात ऊपर करने से ब्लाउज ऊपर की और जाना। शोल्डर का सामने आना , शोल्डर सामने आने से ब्लाउज का गले लूज हो जाता है।

५. बाजू की लम्बाई  हात की एल टाइप फोल्ड करने के बाद ज्यादासे ज्यादा हाफ बाजू की लम्बाई लेनी चाहिए।

बाजू की लम्बाई कोणी से ज्यादा होनेपर बाजू में सिलवटे गिरने की संभावना होती है।

१/४ या पूरी बाजू की लम्बाई के लिए हात सीधा रखकर ही बाजू की लम्बाई लेना चाहिए।

६. दंड का माप  ब्लाउज के दंड के लिए माप लेने समय जहाँपर बाजू का माप खत्म होता है वहापर दंड का माप लेना चाहिए।

दंड को गोल टेप लगाकर दंड का माप लेना चाहिए।

७. सामने के गले का माप  सामने के गले का माप A पॉइंट से D पॉइंट तक 

गले के बिंदु से ऊपरवाला पहला हुक / बटन तक गले की गहराई ले।

८. पीछे के गले का माप  सिर्फ पीछे खुले गले के लिए ही ले,  सामने के गले के माप के तरह ये भी जितनी लेना है उतनी ले सकते है।

 

Blouse Measurement taken from Old Blouse

ब्लाउज़ का माप लेते समय हमेशा शरीर से ही माप लेना चाहिए। पुराने ब्लाउज़ से लिए हुवे माप निचे दिये गये कारणोंसे चूक सकते है।

  1. ब्लाउज़ काफी पुराना होने के कारण।
  2. पुराने ब्लाउज़ पर से लिया माप और वर्तमान माप इसमें फर्क हो सकता है।
  3. पुराने ब्लाउज़ का कपडा और नए ब्लाउज़ का कपड़े के गुणधर्म अलग अलग हो सकते है, जिसकारण माप गलत हो सकता है।
  4. छाती (चेस्ट) और कमर का माप पुराने ब्लाउज़ से लेना काफी कठिन होता है।
Blouse-Measurement-or-Designer-Blouse
Blouse-Measurement-or-Designer-Blouse
१. ऊंचाई  ऊंचाई A पॉइंट से B पॉइंट तक 

गले की शुरुवात से ब्लाउज की ऊंचाई जहाँ खत्म होंगी वहाँतक ब्लाउज़ की ऊंचाई खिंच कर ले।

२. शोल्डर  शोल्डर C पॉइंट से C पॉइंट तक 

सिर्फ बंद गले के ब्लाउज़ के लिए जमीनपर ब्लाउज़ रखकर पीठके शोल्डर एक कोने से दूसरे कोनेतक माप ले।

३. छाती का माप  ब्लाउज़ पूरी तरह से खोले (हुकलुक को खोले) माप लेने के शुरवात लेफ्ट साइड के पहले हुकसे लेफ्ट साइड के मुंढे से पुरे बॅक राइट मुंढे से राइड साइड के पहले हुक तक इसतरह पूरा टेप लगाकर ब्लाउज़ का कपड़ा पूरा खीचंकर माप ले।
४. कमर का माप  कमर का माप ब्लाउज को खींचकर ले।
५. बाजू का माप  जितने ब्लाउज़ की बाजू की लम्बाई है उतनी है लम्बाई ले।
६. दंड की लम्बाई  बाजू के तले की पूरी लम्बाई ले।
७. सामने का गला  जमीनपर ब्लाउज रखकर पहिला हुकलुक लगाकर गले के बिंदु से पहले हुक तक तिरछी ले।
८. पिछले गले का माप  पीछे ओपन गला होगा तभीही ले। ऊपर दिए गए तरिके से तिरछी गले की खोली ले।
९. टक्स पॉइंट  गले के बिंदु से में डाच्या के टोकतक कपड़ा खींचकर टक्स पॉइंट की ऊंचाई ले।

 

पुराने ब्लाउज़ से माप के बारेमे अधिक जानकारी के लिए व्हिडिओ देखे। 

अधिक जानकारी के लिए और ब्लाउज़ कटाई के व्हिडिओ के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को भेट दे।

FAQ’s about Blouse Measurement 

ब्लाउज की सिलाई करते समय ब्लाउज का माप लेने के लिए दो पद्धति का इस्तेमाल हम कर सकते है। लेकिन ये आपके अनुभव और कौशल पर निर्भरत होता है की आप कोनसी पद्धति से माप लेकर योग्य फिटिंग का ब्लाउज सिलाई क्र सकते है।

  1. सीधे शरीर से ब्लाउज का माप लेना।  (Blouse Measurement taken from Body)
  2. पुराने ब्लाउज़ से माप लेना।  (Blouse Measurement taken from Old Blouse)

ब्लाउज का माप और ब्लाउज की कटिंग करने के लिए आप निचे दिए गए व्हिडिओ देखे।

ब्लाउज़ का माप लेने से पहले एक ब्लाउज़ को कितने लम्बाई और चौड़ाई का कपड़ा लगता है, ये जानना सबसे महत्वपूर्ण है।  निचे दिए गए चार्ट में आप छाती के माप के अनुसार कितने लम्बाई का कपड़ा ब्लाउज को लगेगा ये जान सकते है।

छाती (चेस्ट) का माप  ब्लाउज़ के कपड़े की लम्बाई 
३२ इंच  ७० सेंटी मीटर 
३४ इंच  ७५ सेंटी मीटर 
३६ इंच  ८० सेंटी मीटर 
३८ इंच  ८५ सेंटी मीटर 
४० इंच  ९० सेंटी मीटर 
इस चार्ट के अनुसार सिर्फ छाती के माप से ब्लाउज़ के लिए लगने वाले कपड़े की लम्बाई दीगयी है।  लेकिन बाजू की लम्बाई और ब्लाउज के लम्बाई के अनुसार ऊपर दिए गए माप से लगभग १० सेमि ज्याद लम्बा कपड़ा लेगेगा।

Blouse Length - आपके ब्लाउज या चोली की लंबाई को दर्शाता है। अपने कंधे की नोक से उस जगह तक मापें जहांतक आप अपनी चोली / ब्लाउजकी लम्बाई रखना चाहते हैं। यह आमतौर पर आपके निचले बस्ट क्षेत्र के नीचे एक या दो इंच तक होता है।

ब्लाउज की सिलाई में आर्म हॉल का माप सही तरीकेसे लेना काफी महत्वपूर्ण होता है, जहाँ पर ब्लाउज का आस्तीन की शुरुवात होती है वहासे आर्म होल का माप लेना चाहिए।

स्टैंडर्ड ब्लाउज पीस 1 यार्ड लंबा और 1.25 गज चौड़ा होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here