Blouse Designs – Blouse Alteration Method

0

          Hello, In view of Blouse Designs,  today we will learn how to alter the blouse, when we cut the blouse, then we should take the measurement.

Sometimes the blouse does not fall into the fitting due to incorrect measurement. In this situation the basic blouse designs has to be alternated.  

जबभी कपड़ो की बात आती है चाहे वो पुरुषो के हो या चाहे महिलाओ के तो एकबात सामने आती है और वो है की उस कपड़े की फिटिंग में आना। खासकर ब्लाउज की डिझाइन में blouse की fitting का काफी महत्व है। 

ब्लाउज़ को सिलाने समय ब्लाउज़ के कपड़े की लम्बाई और चौड़ाई के साथ साथ सही तरीकेसे ब्लाउज को कट करना और ब्लाउज को सिलाना जरूरी होता है। 

Blouse Designs - Blouse Alteration
Blouse Designs – Blouse Alteration

What is Blouse Alteration ?

कपड़े इंसान नहीं बनाते, इंसान ने कपड़ो को बनाया है, कपड़े कितने भी सुंदर हो कितने भी रंगीले हो मगर जबतक वो पहनने वाले को फिटिंग में ना आये तो कपड़े का कोई मोल नहीं। किसी भी प्रकार के पोशाख में पहनने वाले को कपड़े फिट आना काफी जरूरी होता है। 

खास कर महिलाओ में Blouse के संदर्भ में कहा जाये तो Blouse Cutting सही मायनो में एक कला है, ये एक साधी मगर जटिल सिलाई प्रक्रिया है।  महिलाओ में Blouse Fitting की समस्या काफी आम है।

“Blouse Alteration तब किया जाता है, जब ब्लॉउज अपने शरीर से आकार से छोटा या बड़ा होने लगे। “

ब्लॉउज आल्टर पद्धतिमे सिलाये हुवे ब्लॉउस अगर ज्यादा तंग या ज्यादा ढीला हो रहा हो तो उसे फिरसे फिटिंग करने के काम को ब्लॉउज अल्टरेशन कहा जाता है।

Blouse Designs – 6 Mistakes to Avoid while getting a Saree Blouse Stitched 

ब्लाउज सिलाते समय अगर हम कुछ चीजों पर ध्यान दे तो हमे ब्लाउज के फिटिंग सबंधी कोई समस्या नहीं होंगी। कईबार हम ब्लाउज सिलवाते समय विशेष ध्यान नहीं देते, इसका खामियाजा हमे saree blouse fitting problems के रूप में भुगतना पड़ता है। 

तो आइये, देखते है की, वो कोनसे ७ गलतिया है जो हमे ब्लाउज का माप देते समय नहीं करनी चाहिए। इस ७ गलतियोसे आपको blouse alteration ideas मिलेंगी जिससे आपको ब्लाउज को ब्लाउज आल्टर करने की जरूरत ही नहीं पड़ेंगी।

Blouse Designs – Appropriate Fabric ब्लाउज सिलाने के लिए योग्य कपड़े का चयन करना। 

किसीभी प्रकारके परिधान की फिटिंग चाहे वो पुरुषोंके हो या स्त्री के योग्य प्रकारके कपड़े का चयन करना काफी जरूरी होता है। क्योकि कपड़े के गुणधर्म और प्रकार पर ही कपड़े की फिटिंग अवलंबित होती है। खासकर ब्लाउज का कपड़ा टू बाय टू यानी टिप टॉप प्रकार का होना काफी जरूरी होता है।

Tip Top Cloth से बने हुवे ब्लाउज की फिटिंग अच्छी आती है। और टेरीकॉट, पोलिस्टर, हैंडलूम मोटा कपडे से ब्लाउज सिलाते समय शरीर से लिए गए माप से १ इंच से १/२ (आधा इंच) माप ज्यादा लेना पड़ता है।  क्योकि टेरीकॉट, पोलिस्टर, हैंडलूम मोटा कपडे आमतौर सिलाने के बाद ज्यादा खींचे नहीं जाते।

इसलिए ब्लाउज सिलाते समय योग्य प्रकार के कड़पे का चयन काफी महत्वपूर्ण होता है।  जो Blouse Designs का एक मुलभुत सिद्धांत है।

Blouse Designs – Avoid Measurement During Your Periods

महिलाओ में होनेवाले मासिक धर्म के समय, शरीर ज्यादा पानी इकट्ठा करता है, जिसकारण शरीर में थोड़ा सा मोटापा दीखता है खासकर पेट के हिस्से में, उस समय ब्लाउज या लेहंगे का माप लेने से वो थोड़ा ज्यादा आएगा। 

इसलिए मासिक धर्म के समय ब्लाउज या लेहंगे का माप नहीं देना चाहिए।

Blouse Designs – Armhole Fitting 

ब्लाउज डिज़ाइनिंग में सबसे महत्वपूर्ण होता है ब्लाउज के आर्म होल की फिटिंग, क्योकि अगर ब्लाउज के आर्म होल की फिंटिंग ज्यादा तंग हो गयी तो आपको काफी असुविधा हो सकती है। और ढीले आर्म होल ब्लाउज की शोभा खराब करते है। 

इसलिए ब्लाउज सिलाते समय ब्लाउज के आर्म होल का माप सही तरिके से देना चाहिए। 

Blouse Designs – Keep Enough Margin

ब्लाउज सिलाते समय ध्यान रखना चाहिए की , blouse को फिट करना आसान है मगर ब्लाउज को ढीला करना काफी मुश्किल होता है, क्योकि ब्लाउज को ढीला करते समय ब्लाउज की शोभा बरकरार रखना काफी कठिन होता है। 

इसलिए ब्लाउज को सिलवाते समय ये ध्यान में रखे की, ब्लाउज का माप देते समय माप में कुछ मार्जिन रखे ताकि ब्लाउज सिलाने के बाद ब्लाउज लूज या टाइट करने में आसानी हो। 

Blouse Designs – Side Zipper instead of Buttons

Blouse को सिलाते समय अगर आप ब्लाउज किसी ख़ास मौके के लिए जैसे शादी, पार्टी के लिए सिलवाना चाहते है तो ब्लाउज में बटन की जगह blouse side fitting साइड झिपर (चैन) लगवाए ताकि ब्लाउज दिखने में सुंदर दिखता है।

Blouse Designs – Wear the Correct Bra Size During Blouse Measurement 

Blouse का माप देते समय ध्यान रखे की योग्य माप का ब्रा पहने क्योकि, ब्लाउज के योग्य माप के लिए जब भी आप लेडीज टेलर के पास जाए तो योग्य माप का “ब्रा” पहनकर की जाये। 

Katori Blouse Design And Measuring Complete Guide

Importance of Paper Patterns in Blouse Cutting-2020

Blouse Designs – Methods of Blouse Alteration

ब्लाउज को आल्टर करने के पद्धति में दो प्रकार आते है, जो निम्नलखित है। 

१) ब्लाउज के शोल्डरपर खड़ी सिलवटे आती है। 

२) ब्लाउज के शोल्डरपर आडी सिलवटे आती है। 

३) शोल्डर आगे आना।  

ये दो समस्या आमतौर पर ब्लाउज के माप में गलती होने पर या शरीर में हुवे बदलाव के कारण आती है, ये समस्याये आमतौर पर महिलाओ के शरीर में आनेवाले बदलाव के कारण ज्यादा मात्रा में आती है। खासकर गर्भवती महिलाओ में छाती के आकार में बदलाव होता है। 

जिसकारण ब्लाऊज़ की फिटिंग में परेशानी आती है , उस समय गर्भवती महिलाओ को गर्भधारण के पहले सिलाये हुवे ब्लाउज तंग हो जाते है।  तब उन्हें उन ब्लाउजो  को आल्टर करना पड़ता है। 

ब्लाउज के शोल्डरपर खड़ी सिलवटे आती है। 

Blouse Designs - Blouse Alteration
Blouse Designs – Blouse Alteration

ब्लाउज के शोल्डर का माप ज्यादा लेनेके कारण / या शोल्डर के माप की कटिंग ज्यादा करने से ये समस्या आती है।  ब्लाउज के शोल्डर पर खड़ी सिलवटे पड़ती है। 

इस समस्या का समाधान करने के लिए ब्लाउज के दोनों बाजुए (स्लीव्स) ब्लाउज़ से अलग करले, और दोनों तरफसे ज्यादा हुवे हुवा शोल्डर का भाग काट ले। सिलवटे कम आरही है तो शोल्डर कमी करने पर पाँव इंच कम करे। ज्यादा सिलवटे आनेपर शोल्डर की घड़ी करने के बाद आधा इंच कम करे। 

फिर ब्लाउज की दोनों बाजुए (स्लीव) फिरसे सी ले।

ब्लाउज के शोल्डरपर आडी सिलवटे आती है। 

Blouse Designs - Blouse Alteration
Blouse Designs – Blouse Alteration

ज्यादातर छोटे छाती के ब्लाउज को इस तरह की सिलवटे आती है, इस ब्लाउज के टस्क माप से निचे आनेसे ये समस्या आती है।

इस समस्या में ब्लाउज के फ्रंटके मुख्य डाचकी उचाई १/२ इंच (आधा इंच ) ऊपर की और ले।  अगर ज्यादा सिलवटे आ रही है तो, दोनों फ्रंट के मुख्य डाच की ऊंचाई १ इंच ऊपर ले।

शोल्डर आगे आना।  

Blouse Designs - Blouse Alteration
Blouse Designs – Blouse Alteration

बड़े छाती के ब्लाउज में हमेशा ये समस्या आती है , इस ब्लाउज का टक्स पॉइंट गलतीसे १/२ इंच या १ इंच ऊपरकी और ज्याने से ये प्रॉब्लम आते है।

इस समस्या में ब्लाउज के फ्रंटके मुख्य डाच की सिलाई खोलकर १/२ इंच (आधा इंच) निचे ले। बैक का भाग ज्यादा सामने की तरफ आनेपर १ इंच डाच निचे की और ले।

दूसरी पॉसिबिलिटी ये हो सकती है की, कमर का माप ढीला हो, इस समस्या में कमर का माप फिरसे लेकर योग्य कमर की फिटिंग करे।

दोस्तों, आपको निचे दिए गए व्हिडिओ में आसानी से कटोरी ब्लॉउज सिलाई के लिए पेपर कटिंग और सिलाई सिखने  लिए काफी मदतगार साबित होंगे। अधिक जानकारी के लिए आप हमारे यूटुब चैनल को सब्क्राइब करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here